रेक्टिफायर क्या है कैसे काम करता है और इसके प्रकार

रेक्टिफायर क्या है कैसे काम करता है और इसके प्रकार

आपने  alternating current (AC) और direct current (DC) करंट के बारे में तो सुना होगा. क्या-क्या होता है और कहां पर इस्तेमाल होता है. एसी करंट हमारे घरों में आने वाली सप्लाई एसी करंट की होती है. जिससे कि हमारे घर के लगभग सभी उपकरण काम करते हैं. लेकिन हमारे घर में कुछ ऐसे उपकरण भी होते हैं जो कि डीसी सप्लाई पर काम करते हैं. जैसे कि आपका इनवर्टर इसमें आपको 12 वोल्ट की एक बैटरी देखने को मिलेगी जो की पूरी तरह से डीसी वोल्टेज पर काम करती है.

तो हमारे घर में आने वाले एसी करंट को हमें बैटरी के अनुसार डीसी बनाना पड़ता है इसी के लिए हम ट्रांसफार्मर और रेक्टिफायर का इस्तेमाल करते हैं. Rectifier definition in hindi ? रेक्टिफायर की परिभाषा की बात करें तो एक ऐसी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जो की एसी करंट को डीसी में बदलने का काम करती है.रेक्टिफायर का इस्तेमाल कई सर्किट में किया जाता है. जहां पर भी हमें एसी से डीसी वोल्टेज बदलनी पड़ती है वहां पर हमें रेक्टिफायर का इस्तेमाल करना ही पड़ेगा .ऐसी सप्लाई को डीसी में बदलने के लिए रेक्टिफायर डायोड का इस्तेमाल करता है या यूं कह सकते हैं कि रेक्टिफायर बनाने के लिए डायोड का इस्तेमाल किया जाता है. और रेक्टिफायर मुख्यतः 2 प्रकार के होते हैं जिनके बारे में आपको ज्यादा अच्छे से नीचे बताया गया है.

Rectifier के प्रकार

Type Of Rectifiers in Hindi ?  रेक्टिफायर को उसके काम करने के तरीके के अनुसार मुख्यतः तीन श्रेणियों में रखा गया है. तीनों का काम करने का तरीका एक दूसरे से बिल्कुल अलग हैं. इनका डायग्राम और इनका काम करने का तरीका आपको नीचे बताया गया है.

1.Half wave rectifier

Half wave rectifier theory in hindi ?  यह रेक्टिफायर AC सप्लाई के सिर्फ half cycle को ही रेक्टिफायर कर पाता है. इस रेक्टिफायर में स्टेप डाउन ट्रांसफार्मर का इस्तेमाल किया जाता है. जिन्हें डायोड के साथ में जोड़ दिया जाता है. इस  Half wave rectifier  का सर्किट डायग्राम आपको नीचे दिया गया है .

सबसे पहले main सप्लाई वोल्टेज ट्रांसफार्मर को दी जाती है वहां से ट्रांसफार्मर अगर स्टेप डाउन इस्तेमाल किया है तो वह वोल्टेज को कम कर देगा और Diode पर भेज देगा. यहां जो फोटो दिया गया है उसमें हमने स्टेप डाउन ट्रांसफार्मर इसलिए दिखाया है क्योंकि सामान्यत है ट्रांसफार्मर रेक्टिफायर के लिए वोल्टेज को कम ही करता है. चाहे वह एक साधारण बैटरी चार्जर हो या फिर आपको उससे कोई उपकरण चलाना हो. इस रेक्टिफायर में सिर्फ एक डायोड होती है जो कि ट्रांसफार्मर की सेकेंडरी वाइंडिंग के ऊपर सीरीज में जुड़ी होती है. और यह डायोड reverse bias current को रोक लेती है . इसीलिए यह सिर्फ Half wave को पास होने देती है इसीलिए इस रेक्टिफायर को Half wave rectifier कहा जाता है.

Working of Half Wave Rectifier In Hindi

जब रेक्टिफायर पर ट्रांसफार्मर द्वारा वोल्टेज दी जाती है तो वह पॉजिटिव और नेगेटिव दोनों साइकल होते हैं लेकिन यह रेक्टिफायर डायोड के कारण सिर्फ positive half cycles को ही आगे जाने देता है. और नेगेटिव half cycles को रोक लेता है.

क्योंकि रेक्टिफायर में लगी हुई डायोड Half पॉजिटिव cycle आने पर forward bias स्थिति में हो जाएगी और उस cycle को पास कर देगी . लेकिन जैसे ही डायोड पर Half नेगेटिव Cycle आएगा यह reverse bias स्थिति में आ जाएगी और उस Half नेगेटिव Cycle को पास नहीं करेगी.

2.Full Wave Rectifier

फुल वेव रेक्टिफायर Input वोल्टेज waveform के positive और negative दोनों cycles को रेक्टिफायर करता है. इस रेक्टिफायर की आउटपुट half wave rectifier से कहीं ज्यादा होती है. और इसके आउटपुट में AC components इनपुट की बजाए बहुत कम इस्तेमाल होते हैं.फुल वेव रेक्टिफायर को आगे दो श्रेणियों में बांटा गया है .

  1. Center Tapped Full Wave Rectifier
  2. Full Wave Bridge Rectifier

1. Center Tapped Full Wave Rectifier

Center tapped full wave rectifier में 2 डायोड का इस्तेमाल किया जाता है. और यह डायोड center tapped ट्रांसफार्मर के साथ में जुड़ी होती है जैसा कि आपको नीचे सर्किट डायग्राम में दिखाया गया है . दोनों डायोड के पॉजिटिव टर्मिनल ट्रांसफार्मर के दोनों छोर पर जुड़े होते हैं. और Center tap टर्मिनल नेगेटिव होता है जिसे सीधा Load के साथ में जुड़ जाता है.

Center Tapped Full Wave Rectifier Working In Hindi

ट्रांसफार्मर की प्राथमिक वाइंडिंग पर Ac वोल्टेज दी जाती है. और ट्रांसफार्मर की दूसरी बाइंडिंग पर तो डायोड Connected होती है.क्योंकि half वेव रेक्टिफायर में एक डायोड सिर्फ half cycle को ही rectify कर पाता था तो दूसरे half cycle को rectify करने के लिए यहां पर दूसरा डायोड लगाया गया है.तो जब डायोड D1 forward bias स्थिति में होगा तो यह करंट को आगे जाने देगा और उस समय डायोड D2 reverse biased स्थिति में होगा और वह करंट को आगे नहीं जाने देगा.

तो इस तरह half cycle Rectify हो जाता है. और जब डायोड D2 forward bias स्थिति में होगा तो यह करंट को आगे जाने देगा और उस समय डायोड D1 reverse biased स्थिति में होगा और वह करंट को आगे नहीं जाने देगा. तो इस तरह दूसरा half cycle भी Rectify हो जाता है और हमें दोनों डायोड के कारण आउटपुट में Full Wave मिल जाती हैं.

लेकिन इसके द्वारा rectified आउटपुट शुद्ध नहीं होती इसे और शुद्ध करने के लिए dc component का इस्तेमाल किया जाता है.

3.Full Wave Bridge Rectifier

Full wave bridge  rectifier theory in Hindi ?  ब्रिज रेक्टिफायर में डायोड को ब्रिज के रूप में बनाया जाता है और यह full wave rectification के लिए इस्तेमाल किया जाता है और यह बहुत सस्ता होता है इसीलिए यह इलेक्ट्रॉनिक्स के बहुत सारे उपकरण में इस्तेमाल किया जाता है.

Working of Bridge Rectifier in Hindi

यह रेक्टिफायर दिखने में जितना मुश्किल लगता है यह उतना ही आसान है. एक बार समझ आने के बाद में आप इसे कभी नहीं भूलोगे. इसका सर्किट डायग्राम आपको ऊपर दिया गया है. जहां पर आप डायोड के कनेक्शन देख सकते हैं कि कैसे डायोड को जोड़कर bridge बनाया गया है. ट्रांसफार्मर की सेकेंडरी वाइंडिंग को points 1और 3 से जोड़ा गया है और RLoad को points 2 और 4 से जोड़ा गया है.

AC वोल्टेज का पहला half cycle आने पर D1 और D4 डायोड forward biase स्थिति में आ जाएंगे और यह करंट को जाने देंगे. लेकिन D2 और D3 डायोड उस समय reverse base स्थिति में रहेंगे तो यह करंट को आगे नहीं जाने देंगे. दूसरे half cycle आने पर D2 और D3 डायोड forward biase स्थिति में आ जाएंगे और यह करंट को जाने देंगे. लेकिन D1 और D4 डायोड उस समय reverse biase स्थिति में रहेंगे तो यह करंट को आगे नहीं जाने देंगे.

तो इस प्रकार यह रेक्टिफायर दोनों half cycle को rectifies करेगा. और आउटपुट में हमें Full Wave के आउटपुट मिलेगी.

यह रेक्टिफायर बहुत सस्ता होता है इसलिए आपको बहुत सारे उपकरण में यह आपको देखने को मिलेगा. इस रेक्टिफायर की मदद से आप अपना बैटरी चार्जर भी बना सकते हैं. इसके बारे में हम आगे आने वाली पोस्ट में बताएंगे कि कैसे आप 12 वोल्ट का बैटरी चार्जर बना सकते हैं. इस पोस्ट में हमने आपको रेक्टिफायर क्या है कैसे काम करता है और इसके प्रकार rectifier in hindi, ब्रिज रेक्टिफायर , फुल वेव रेक्टिफायर, हाफ वेव रेक्टिफिएर थ्योरी रेक्टिफायर के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की है .अगर इसके अलावा आप कुछ और जानना चाहते हैं तो नीचे कमेंट करके पूछो.

35 Comments
  1. Mritunjay Kumar says

    Rectifier Ka Mtlb Kya h

    1. Pawan Vishwakarma says

      Sir bridge rectifier ka use kyu kiya jata hai

  2. Mohit says

    Dear sir coupler pr bhi Hindi me jankari de. Plz

  3. Suraj pal says

    Ohm law

    1. Anshu says

      Ketne volt dc supali deta hai output main

  4. Sudhanshu Tiwari says

    Sir Bridge rectifier me bhi transformer ki secondary coil centre taped hoti hai

  5. Saurabh mishra says

    Why transformer secondary winding is earthing in centertapped rectifier

  6. Saurabh mishra says

    Why transformersecondary winding isearthing in centertapped rectifier

    1. Husnain hasmi says

      Husnain hasmi

  7. vikas says

    wahat is pin diode definetion and working in hindi me

  8. vikas says

    what is SCR difinetion in hindi and triggring

  9. satyam tiwari says

    ट्रांसफार्मर का उपयोग कैसे होता है

  10. Mritunjay says

    Rekty fire kya hai

    1. Sana Bano says

      Rectifier ek aisa device h jo AC ko DC me convert krta h

  11. Sudish kumar says

    Jab weldin mashine current kam deta hoga to kya probalm huwaa hoga

  12. Mahendra Kumar says

    Working of transistor with diagram ke sath explain

  13. kapil says

    sir iske ripple fecter,vdc,idc,eficiancy,piv,irms,fr,
    ye sabi batayen sir?????

  14. Vineet Kumar says

    Counter in hindi

  15. Vineet Kumar says

    Counter in hindi m

  16. Ravi kewat says

    रेक्टिफायर कैसी युक्ति हैं

  17. RoHaN NAVGRAHE says

    Sir basic electrical k notes bnaye plz

  18. Rakesh says

    Plz send PDF for electronics mechanic on telegram

  19. Ritik Asaiya says

    jab center tapped rectifier tha to brigde rectifier ko banane ki kya zaroorat thi center tapped rectifier mai aise kya khamiyan thi jo iski zaroorat padhi

  20. Anshu says

    Ketne volt dc supali deta hai output main

  21. Nilwant says

    Bridge ractifure ka wave diagram not available

  22. Shivangi says

    Thank you so much Google???

  23. VIPIN KUMAR YADAV says

    good sir g

  24. Sunil Nagar says

    Hello sir, Aapne full wave rectifier Ka working stemnt chod Diya hai.

  25. Pawan verma says

    Transformer 12 volts D.C deta hay

  26. KRISHAN MURARI says

    Rectifier kis ko rectified karta hi
    Voltage or current ko

  27. Pawan verma says

    Sir what is static rectifier.

  28. Aniket says

    In an ac circuit,scr works like a iska and kya hoga.

  29. Vivek says

    Full details TRU

  30. Ss says

    Half wave Ka use कहा होता h

  31. jyoti says

    hi please aap apni circuit ek baar check kr lijiye sayad galat h

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!