Electronic Mechanic 2nd Semester Paper in Hindi

Electronic Mechanic 2nd Semester Paper In Hindi

ITI Electronic ट्रेड से डिप्लोमा करने वाले विद्यार्थियों के लिए हर साल सरकारी विभाग में जैसे कि रेलवे विभाग बस विभाग इत्यादि में नौकरियां निकलती है. जो ITI Electronic Mechanic से पढ़ाई कर रहा है .उन सभी विद्यार्थियों के लिए इस पोस्ट में ITI Electronic Mechanic 2nd Sem Question Paper दिया गया है .इस Question Paper में दिए गए प्रश्न पहले भी आईटीआई की परीक्षा में पूछे जा चुके है .इसलिए तैयारी करने वाले उम्मीदवारों को एक बार इन प्रश्नों को जरुर देखना चाहिए .इससे उनकी तैयारी भी अच्छे से हो जाएगी और उन्हें पता भी चल जाएगा की परीक्षा में किस तरह के प्रश्न आते है .

1. कॉमन बेस कॉन्फ़िगरेशन का इस्तेमाल प्रदान करना है।

⚪ करंट का लाभ
⚪ वोल्टेज का लाभ
⚪ ऊर्जा का लाभ
⚪ ट्रांस रेसिसटेन्स लाभ

वोल्टेज का लाभ

2. फ्लिप-फ्लॉप की न्यूनतम संख्या, जिसकी एक डिकोड काउंटर के निर्माण में आवश्यकता होती है?

⚪ 3
⚪ 4
⚪ 10
⚪ 16

3. एक चार आउटपुट वाले बाईनरी डीकोडर में ….. होते है?

⚪ 4 आउटपुट
⚪ 8 आउटपुट
⚪ 12 आउटपुट
⚪ 16 आउटपुट

16 आउटपुट

4. पारंपरिक लैड अवयव की बजाय, SMD अवयव अधिक उपयोगी होते हैं, क्योंकि

⚪ SMD अवयव आसानी से टांके और रंगे जा सकते हैं
⚪ SMD अवयव सस्ते होते हैं
⚪ SMD अवयव आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं
⚪ अवांछित कैपेसीटेन्स और इंडक्टेन्स को कम करते हैं

अवांछित कैपेसीटेन्स और इंडक्टेन्स को कम करते हैं

5. आरसी फेज शिफ्ट ओसुसीलेटर में न्यूनतम संख्या के आर सी नेटवर्क को ……… कास्केड से जोड़ा जाता है।

⚪ एक
⚪ दो
⚪ तीन
⚪ चार

तीन

6. एक 555 IC आधारित मोनोस्टेबल मल्टीवाइब्रेटर जो R = 10 किलो ओह्म और कैपेसिटर C = 1μF का इस्तेमाल करता है। आउटपुट पल्स का टाइम पीरियड कितना होगा?

⚪ 11 सेकंड
⚪ 1.1 सेकंड
⚪ 0.11 सेकंड
⚪ 2.2 सेकंड

0.11 सेकंड

7. जेऍफ़ईटी में, जब VGS ………. होता है तो ड्रेन करंट अधिकतम होता है?

⚪ शून्य
⚪ नेगेटिव
⚪ पिंच ऑफ वोल्टेज के बराबर
⚪ पिंच ऑफ वोल्टेज से दोगुना

शून्य

8. बी श्रेणी के एम्पलीफायर की अधिकतम क्षमता …… है?

⚪ 50%
⚪ 78.5%
⚪ 88%
⚪ 92%

9. स्मीट ट्रिगर एक परिपथ (सक्रिट) है जो ……..इस्तेमाल किया जाता है।

⚪ ट्रिगरइंग SCR
⚪ क्लिप्पिंग
⚪ क्लेम्पिग
⚪ साइन वेव को स्क्वायर वेव में परिवर्तित करने के लिए

साइन वेव को स्क्वायर वेव में परिवर्तित करने के लिए

10. आमतौर पर एससीआर को …….. द्वारा ऑन किया जा सकता है।

⚪ एनोड से कैथोड की वोल्टेज पॉजिटिव करके
⚪ एनोड से कैथोड की वोल्टेज नेगेटिव बना कर
⚪ गेट को पॉजिटिव करंट पल्स देकर
⚪ एनोड से कैथोड की वोल्टेज पॉजिटिव बना कर और गेट को पॉजिटिव करंट पल्स देकर

एनोड से कैथोड की वोल्टेज पॉजिटिव बना कर और गेट को पॉजिटिव करंट पल्स देकर

11. स्क्वायर वेव को सिनुसोईडल वेव के सिरे को क्लिप करके जेनेरेट किया जाता है। ऐसे क्लिपर के लिए …….. संख्या में डायोड चाहिए होते हैं।

⚪ 1
⚪ 2
⚪ 3
⚪ 4

12. एक बाईपोलर जंक्शन वाले ट्रांसिस्टर में-

⚪ बेस, कोलैक्टर और एमिटर क्षेत्र में समान चौड़ाई होती है
⚪ बेस भारी डोपड होता है और बेस. की चौडाई बहुत कम होती है
⚪ बेस हल्का डोपड और बेस की चौड़ाई बहुत जायदा होती है
⚪ एमिटर भारी डोपड और बेस की चौड़ाई हल्की डोपड होती है

एमिटर भारी डोपड और बेस की चौड़ाई हल्की डोपड होती है

13. नीचे दिए गए थायरिसटर्स पर विचार करें। इनमें से किसको बाईलेटरल स्विच की तरह इस्तेमाल किया जाता है?

⚪ SCR
⚪ LASCR
⚪ TRIAC
⚪ UJT

14. एफ़ईटी एम्पलीफायर को कई मापक यंत्रो में इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि एफ़ईटी में ……… होता है-

⚪ उच्च वोल्टेज का लाभ
⚪ उच्च करंट का लाभ
⚪ कम इनपुट रेसिसटेन्स
⚪ उच्च इनपुट रेसिसटेन्स

उच्च इनपुट रेसिसटेन्स

15. कोई भी संयोजन परिपथ को …….. से निर्मित किया जा सकता है।

⚪ सिर्फ NAND गेट्स
⚪ सिर्फ XOR गेट्स
⚪ सिर्फ XNOR गेट्स
⚪ AND गेट्स और OR गेट्स

सिर्फ NAND गेट्स

16. (242)8 का दशमलव समतुल्य …….. है?

⚪ 165
⚪ 162
⚪ 824
⚪ 484

17. एक ट्रॉसिस्टर जिसकी Β 250 और बेस करंट 20 माइक्रो एम्पियर्स का है। तो कोलेकटर करंट कितना होगा?

⚪ 500 ΜA
⚪ 5 MA
⚪ 50 MA
⚪ 12.5 ΜA

18. एक बाईपोलर सिरे वाला ट्रांसिस्टर, स्विच की तरह इस्तेमाल किया जाता है तब ट्रांजिस्टर ……. पर कार्य करेगा।

⚪ सैचुरेशन क्षेत्र और कटऑफ क्षेत्र
⚪ सैचुरेशन क्षेत्र और एक्टिव क्षेत्र में
⚪ एक्टिव रीजन और कटऑफ क्षेत्र में
⚪ सिर्फ सैचुरेशन क्षेत्र में

सैचुरेशन क्षेत्र और कटऑफ क्षेत्र

19. ट्रांसिस्टर को एक्टिव क्षेत्र में चालू करने पर?

⚪ एमिटर जंक्शन, फॉरवर्ड बायस्ड और कलेक्टर जंक्शन रिवर्स बायस्ड होता है
⚪ एमिटर जंक्शन, रिवर्स बायस्ड और कलेक्टर जंक्शन फॉरवर्ड बायस्ड होता है
⚪ दोनों सिरे फॉरवार्ड बायसड होते हैं
⚪ दोनों सिरे रिवर्स बायस्ड होते हैं

एमिटर जंक्शन, फॉरवर्ड बायस्ड और कलेक्टर जंक्शन रिवर्स बायस्ड होता है

20. एक SCR में डीवी/डीटी प्रोटेक्शन को ……. इस्तेमाल के द्वारा प्राप्त किया जा सकता है?

⚪ SCR के साथ RL सीरीज
⚪ SCR के एक्रॉस RC
⚪ SCR के साथ, सीरीज में
⚪ SCR के साथ सीरीज में RC

SCR के एक्रॉस RC

21. डिजिटल गेट जिसका आउटपुट कम हो जाता है। उस समय जब ……… का आउटपुट हाई होता है।

⚪ OR गेट
⚪ NOR गेट
⚪ XOR गेट
⚪ NAND गेट

NAND गेट

22. 3 AFF के षड्भुजाकार मान का, अष्टभुजाकार प्रस्तुतिकरण कौन सा होगा?

⚪ 74377
⚪ 35377
⚪ 25377
⚪ 16577

23. एक 3 बिट एसिंक्रोनस काउंटर में …….. होते हैं?

⚪ 3 स्टेट्स
⚪ 6 स्टेट्स
⚪ 8 स्टेट्स
⚪ 9 स्टेट्स

6 स्टेट्स

24. ओपन लूप Op Amp सक्रिट (परिपथ) में विपरीत इनपुट ग्राउंडेड हो जाता है एक 2 वोल्ट पीक से पीक सिनुसोइडल सिग्नल, नॉन इन्वेटिंग इनपुट में लगाने पर आउटपुट

⚪ साइन वेव, जिसका एम्प्लीटयूड Op Amp की बढ़त पर निर्भर करता है
⚪ ट्राईएग्युलर वेव, जिसका एम्प्लीट्यूड Op Amp की बढ़त पर निर्भर करता है
⚪ स्क्वायर वेव जिसकी एम्प्लीट्यूड Op Amp पर निर्भर करती है
⚪ स्क्वायर वेव जिसका एम्प्लीट्यूड OpAmp की संतृपति पर निर्भर करता है

स्क्वायर वेव जिसका एम्प्लीट्यूड OpAmp की संतृपति पर निर्भर करता है

25. MOSFET और IGBT में क्या अंतर है?

⚪ IGBT एक कंट्रोल्ड यंत्र है और MOSFET वोल्टेज कंट्रोल्ड यंत्र है
⚪ IGBT के चार सिरे और MOSFET के तीन सिरे हैं
⚪ IGBT, के मुकाबले MOSFET में बढ़िया हैंडलिंग कैपेसिटी है
⚪ MOSFET की बजाय IGBT में उच्च फॉरवर्ड वोल्टेज ड्रॉप है

IGBT, के मुकाबले MOSFET में बढ़िया हैंडलिंग कैपेसिटी है

26. एक आदर्श ऑपरेशनल एम्पलीफायर में …….होना चाहिए।

⚪ हाई इनपुट इम्पीडेंस और लो आउटपुट इम्पीडेंस
⚪ लो आउटपुट इम्पीडेंस और हाई वोल्टेज गेन
⚪ हाई वोल्टेज बढ़त और हाई आउटपुट इम्पीडेंस
⚪ लो इनपुट इम्पीडेंस और लो आउटपुट इम्पीडेंस

हाई इनपुट इम्पीडेंस और लो आउटपुट इम्पीडेंस

27. ब्लू LED के निर्माण में ……… सेमीकंडक्टअर इस्तेमाल होता है।

⚪ गैलियम आर्सेनाइड
⚪ सिलिकॉन
⚪ जर्मेनियम
⚪ इन्डियम गैलियम नाइट्राइड

इन्डियम गैलियम नाइट्राइड

28. FET में, ड्रेन वोल्टेज जिससे अधिक ड्रेन करंट की बढ़ोतरी नहीं होती उसे कहा जाता है?

⚪ ब्रेक डाउन वोल्टेज
⚪ संतृप्त (सेच्युरेशन वोल्टेज)
⚪ पिंच ऑफ वोल्टेज
⚪ क्रिटिकल वोल्टेज

पिंच ऑफ वोल्टेज

29. ऑप्टो केप्लर मुख्यतः ………. इस्तेमाल होती है?

⚪ बहुत कमजोर सिग्नल्स को एम्प्लीफाई करने के लिए
⚪ एक परिपथ से दूसरे परिपथ में हस्तांतरित करने के लिए
⚪ परिपथ के दो चरणों के बीच अलगाव उत्पन्न करने के लिए
⚪ रोशनी की आवृति को परिवर्तित करने के लिए

परिपथ के दो चरणों के बीच अलगाव उत्पन्न करने के लिए

30. 85 क्लॉक पीरियड्स के बाद डिकेड कांउटर की वर्तमान स्तिथि 0011 है। बाद में काउंटर की स्तिथि क्या होगी?

⚪ 1000
⚪ 0101
⚪ 1001
⚪ 0011

31. यूनी जंक्शन ट्रांजिस्टर का …….. में इस्तेमाल होता है?

⚪ पॉवर एम्पलीफायर
⚪ उच्च आवृति वाले एम्पलीफायर
⚪ सिनुसोईडल एम्पलीफायर ओसिलेटर्स
⚪ सॉटुथ वेव जेनेरेटर्स

सॉटुथ वेव जेनेरेटर्स

32. विशिष्ट ऑपरेशनल एम्पलीफायर की इनपुट स्टेज होगी?

⚪ एमिटर फॉलोअर (अनुसरण करना)
⚪ पुश पुल एम्पलीफायर
⚪ कॉमन बेस एम्पलीफायर
⚪ ड्यूल इनपुट बैलेंस्ड आउटपुट डिफ्रेन्शियल एम्पलीफायर

ड्यूल इनपुट बैलेंस्ड आउटपुट डिफ्रेन्शियल एम्पलीफायर

33. समान्तर आउट शिफ्ट रजिस्टर 8 बिट सीरियल में,8 बिट डाटा को संगृहीत करने के लिए कितनी संख्या में क्लॉक पीरियड चाहिए होंगे?

⚪ 1
⚪ 2
⚪ 8
⚪ 16

34. फ्लिप फ्लॉप के क्लॉक इनपुट पर 10 Μs के पीरियड पर स्क्वायर वेव लगाया जाता है। यदि T = 1 है तो फ्लिप फ्लॉप के आउटपुट के सिग्नल का पीरियड क्या होगा?

⚪ 100us
⚪ 20us
⚪ 10us
⚪ 5us

35. मेटल ऑक्साइड सेमीकंडक्टर फील्ड इफ़ेक्ट ट्रांसिसटर है (MOSFET) ………. है?

⚪ यूनीपोलर, वोल्टेज कंट्रोल्ड, दो सिरे का यंत्र
⚪ बाईपोलर, करंट कंट्रोल्ड, तीन सिरे वाला यंत्र
⚪ यूनीपोलर, वोल्टेज कंट्रोल्ड, तीन सिरे वाला यंत्र
⚪ बाईपोलर, करंट कंट्रोल्ड, दो सिरे वाला यंत्र

यूनीपोलर, वोल्टेज कंट्रोल्ड, तीन सिरे वाला यंत्र

36. BCD काउंटर की अमान्य आउटपुट स्तिथि है?

⚪ 1000
⚪ 0001
⚪ 0000
⚪ 1110

37. सोल्डर पेस्ट में ……. अंतर्विष्ट होता है?

⚪ फ्लक्स और सोल्डर पाउडर
⚪ फ्लक्स, सोल्डर पाउडर और चिपकाने वाला पदार्थ
⚪ चिपकाने वाला पदार्थ और सोल्डर पाउडर
⚪ चिपकाने वाला पदार्थ और फ्लक्स

फ्लक्स, सोल्डर पाउडर और चिपकाने वाला पदार्थ

38. एक पॉजिटिव ऐज ट्रिगर्ड JK फ्लिप फ्लॉप में यदि J = 1 और K = 1 और क्लॉक इनपुट, लगातार कम से ज्यादा की और जाते हुए, अधिकतम अवस्था पर प्रयुक्त किया जाता है तब

⚪ आउटपुट लॉजिक 0 और 1 के बीच स्विच करता रहता है
⚪ आउटपुट एक बार पूरक रहता है
⚪ आउटपुट लगातार लॉजिक 1 पर रहता है
⚪ आउटपुट लगातार लॉजिक 0 पर रहता है

आउटपुट एक बार पूरक रहता है

39. रेस अराउंड कंडीशन देखी जा सकती है।

⚪ आर एस फ्लिप फ्लॉप में
⚪ जे के फ्लिप फ्लॉप में
⚪ डी फ्लिप फ्लॉप में
⚪ सभी फ्लिप फ्लॉप में

जे के फ्लिप फ्लॉप में

40. एक मल्टी वाइब्रेटर, जो स्क्वायर वेवफॉम्र्स के उत्पादन के लिए इस्तेमाल होता है?

⚪ मोनो स्टेबल मल्टी वाइब्रेटर
⚪ बाई स्टेबल मल्टी वाइब्रेटर
⚪ एस्टेबल मल्टी वाइब्रेटर
⚪ एचूमिट्ट ट्रिग्गर

एस्टेबल मल्टी वाइब्रेटर

41. सी श्रेणी के एम्पलीफायर की क्षमता ……. और डिसटॉर्शन ……. होती है।

⚪ उच्च, कम
⚪ कम, उच्च
⚪ कम, कम
⚪ उच्च, उच्च

उच्च, उच्च

42. JK फ्लिप-फ्लॉप का आउटपुट जीरो है। क्लॉक पल्स अपनाने पर यह 1 में तब्दील हो जाता है। तो इनपुट J और K……… होगा।

⚪ J = 1 और K = 1 और 0
⚪ J = 0 और K = 1 और 0
⚪ J= 1 और 0 और K= 0
⚪ J = 1 और 0 और K = 1

J = 1 और K = 1 और 0

43. चार सेलेक्ट इनपुट वाले मल्टीप्लेक्सर के इनपुट होते हैं।

⚪ 4
⚪ 8
⚪ 16
⚪ 1

44. OR गेट को बनाने के लिए कितने NAND गेट्स की संख्या चाहिए होगी?

⚪ 2
⚪ 3
⚪ 4
⚪ 5

45. 25510 का बीसीडी कोड है?

⚪ 11111111
⚪ 011111110101
⚪ 001001010101
⚪ 111111110010

001001010101

46. CMOS लॉजिक गेट के लाभ हैं?

⚪ बहुत तेज़ होता है
⚪ बहुत कम पॉवर खर्च करता है
⚪ बहुत कम तापमान पर काम करता है
⚪ स्टेटिक बदलाव से उन पर कोई प्रतिक्रिया नहीं होती

बहुत कम पॉवर खर्च करता है

47. डार्लिंगटन एम्पलीफायर में होता है –

⚪ उच्च करंट लाभ और उच्च इनपुट रेसिसटेंस
⚪ उच्च करंट लाभ और कम इनपुट रेसिसटेंस
⚪ उच्च वोल्टेज लाभ और उच्च इनपुट रेसिसटेंस
⚪ उच्च वोल्टेज लाभ और कम इनपुट रेसिसटेंस

उच्च करंट लाभ और उच्च इनपुट रेसिसटेंस

48. इनमें से कौन से ओसिलेटर की अच्छी आवृति स्थिरता है?

⚪ आर सी फेज शिफ्ट ओसिलेटर
⚪ हर्टले ओसिलेटर
⚪ कोलपिट्स ओसिलेटर
⚪ क्रिस्टल ओस्सिलेटर

क्रिस्टल ओस्सिलेटर

इस पोस्ट में आपको Iti Electronic Mechanic Mcq Pdf Iti Electronic Mechanic Model Question Paper Pdf Iti Electronic Mechanic 2nd Semester Question Paper आईटीआई इलेक्ट्रॉनिक मैकेनिक 2 सेमेस्टर प्रश्न पत्र इलेक्ट्रॉनिक मैकेनिक प्रश्न और उत्तर Electronic Mechanic Solved Paper Electronic Mechanic Exam Paper Electronic Mechanic Previous Question Paper से संबंधित फ्री ऑनलाइन टेस्ट दिया गया है. तो इन्हें ध्यानपूर्वक पढ़ें. अगर इनके बारे में आपका कोई भी सवाल या सुझाव हो तो नीचे कमेंट करके पूछो और अगर आपको यह टेस्ट फायदेमंद लगे तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!