Switch क्या है और ये कितने प्रकार के होते है

Switch क्या है और ये कितने प्रकार के होते है

किसी भी इलेक्ट्रिकल सर्किट को ऑन या ऑफ करने के लिए जिस इलेक्ट्रिकल डिवाइस का इस्तेमाल होता है उसे स्विच कहते हैं जैसे कि, Push Button Switch , Toggle Switch इत्यादि . सभी स्विच का काम किसी भी सर्किट से इलेक्ट्रॉन की सप्लाई को बंद करना या शुरू करना होता है.हमारे घरों में हमें टॉगल स्विच देखने को मिलते हैं जिनकी मदद से हम हमारे घर के सभी उपकरण को शुरू या बंद कर सकते हैं जैसे कि अगर हमें फैन शुरू करना है तो हम तो कल बटन को दबाएंगे और वह दबा रह जाएगा. जिससे हमारे पंखा में सप्लाई शुरू हो जाएगी. और जब तक पंखे में सप्लाई रहेगी पंखा चलता रहेगा और जैसे ही हम पंखे की सप्लाई या स्विच बंद कर देंगे तो पंखा चलना बंद हो जाएगा .

आज इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि What is Electrical Switch in Hindi , Electrical Switch types In Hindi तो आज इस पोस्ट में हम आपको इलेक्ट्रिकल स्विच के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं. यह कितने प्रकार के होते हैं और कौन सा स्विच कैसे काम करता है. नीचे आपको सभी स्विच के बारे में पूरी जानकारी दी गई है.

Switch types In Hindi

स्विच कई तरह के होते हैं लेकिन इन्हें दो तरह की श्रेणियों में बांटा गया है

Mechanical switches : जो Switch physically Move किए जाते हैं. जिन्हें दबाया जाए या हिलाया जाए या जिससे छूया जा सके उन्हें मैकेनिकल स्विच कहते हैं, जैसे कि Push Button Switch , Toggle Switch , Limiter switch इत्यादि.

Electronic switches : ऐसी स्विच जिन्हें Physically दबाने या हिलाने की जरूरत नहीं पड़ती उनका सारा काम Semiconductor द्वारा हो जाये उन्हें  Electronic switches  कहते है .

Mechanical switches

Mechanical switches का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है. हमारे घरों में इस्तेमाल होने वाले सभी स्विच मैकेनिकल होते हैं चाहे फिर वह हमारे घर के पंखे को फोन करने के लिए हो या फिर हमारे घर में मोटर को फोन करने के लिए हो मैकेनिकल स्विच को  संपर्कों की संख्या, पोल की संख्या  के आधार पर अलग-अलग श्रेणियों में बांटा गया है जिस की सूची नीचे दी गई है.

Pole और Throw Switch

हमारे घरों में इस्तेमाल होने वाले सामान्य स्विच भी Pole और Throw Switch होते है .लेकिन हमारे घरों में इस्तेमाल होने वाले सामान्य स्विच Single Pole Single Throw Switch . जिससे हम मेन सप्लाई को किसी भी उपकरण में भेज सकते हैं . लेकिन इसके अलावा भी एक Pole और एक Switch  से ज्यादा के Switch होते हैं जैसे :

  • Single Pole Double Throw Switch
  • Double Pole Single Throw Switch
  • Double Pole Double Throw Switch

Single Pole Single Throw Switch :- इनका इस्तेमाल अलग-अलग जगह पर अलग-अलग तरह से किया जाता है जैसे की Single Pole Single Throw Switch बटन सामान्य हमारे घरों में लगाया जाता है जिससे कि हम सिर्फ एक तार की सप्लाई को किसी भी उपकरण में दे सकते हैं.

Single Pole Double Throw Switch :- इस बटन की मदद से हम किन्हीं दो उपकरण में से एक उपकरण को ही एक समय पर चला सकते हैं जैसे कि आपके घर में कहीं पर दो पंखे हैं और आप एक समय में सिर्फ एक  पंखा On करना चाहते हैं. तो इस बटन का उपयोग करके दोनो पंखों के कनेक्शन इस एक बटन पर कर सकते हैं. तो जब बटन एक तरफ होगा तो एक पंखा चलेगा और दूसरा  पंखा चलाने के लिए आपको बटन को दूसरी तरफ दबाना पड़ेगा.

Double Pole Single Throw Switch : इस बटन का उपयोग फिर हम समान्यत है अपने घरों में कर सकते हैं.यह बटन किसी भी उपकरण के दोनों तारों की सप्लाई को ON या OFF करने के लिए किया जा सकता है.

Double Pole Double Throw Switch :  इस बटन का उपयोग करके हम किसी भी उपकरण के दोनों तारों के कनेक्शन को बड़ी ही आसानी से बदल सकते हैं. जैसे कि अगर हमें किसी डीसी मोटर के  घूमने की दिशा को बदलना है .तो हम इस बटन की मदद से उस मोटर के तारों के कनेक्शन को उल्टा करके उसकी घूमने की दिशा को बड़ी ही आसानी से बदल सकते हैं.

Push Button Switch

जो बटन एक बार दबाने से अपना काम करता है उसे Push बटन कहते हैं यह आपको बहुत सारी Electrical डिवाइस में देखने को मिलता है जैसे कि केलकुलेटर , Motor Startor , मोबाइल लैपटॉप इत्यादि.यह बटन किसी भी सर्किट को बंद करने के या शुरू करने के काम आता है. हमें Induction मोटर स्टार्टर में यह पुश बटन देखने को मिलते हैं और वहां पर हमें दो पुश बटन मिलते हैं जिसमें से एक पुश बटन स्टार्टर को शुरू करता है और दूसरा पुश बटन उस स्टार्टर को बंद करता है तो इसके अलग-अलग टाइप है जो कि अलग – अलग काम करते हैं.

इस button के बारे में पूरी जानकारी हमारी इस पोस्ट में देखे : Push Button क्या है Push Button कितने Type के होते है

Toggle Switch

यह बटन हमारे घरों में भी आपको देखने को मिलते हैं हमारे घरों में इस्तेमाल होने वाले सामान्यतः सभी बटन Toggle बटन होते हैं इन्हें हमें अपने हाथों से दबा कर ON या Off करना पड़ता है.

टॉगल स्विच को भी आगे कुछ केटेगरी में बांटा गया है जैसे की “Single Pole Double Throw Switch , Double Pole Single Throw Switch , Double Pole Double Throw Switch”

Limit Switch

इस स्विच का इस्तेमाल किसी भी उपकरण पर उसकी लिमिट को कंट्रोल करने के लिए किया जाता है जैसे कि अगर कोई उपकर किसी वस्तु को ऊपर या नीचे की तरफ ले कर जा रहा है तो जहां पर आप इस स्विच को और लगाओगे वहीं पर वह उपकरण उस वस्तु को रोक देगा.

इस बटन में एक NO Point होता है और एक NC Point होता है जिसका इस्तेमाल करके हम किसी भी उपकरण की सप्लाई को  ON या Off कर सकते हैं.

Float Switches

इस बटन का इस्तेमाल पानी तेल जैसे तरल पदार्थों में किया जाता है और यह स्विच आपको आपके वाटर टैंक में भी देखने को मिल सकता है अगर आपने अच्छा वाटर टैंक अलार्म लिया है.यह स्विच किसी भी तरल पदार्थ की स्थिति को बताने के लिए इस्तेमाल किया जाता है जैसे कि अगर आपको किसी टैंक में भर रहे पानी की स्थिति को जानना है कि जब वह टैंक फुल हो जाए तो आपको पता चल जाए या फिर जब वो टैंक खाली हो जाए तब आपको पता चल जाए तो इस तरह की स्थिति को जानने के लिए इस स्विच का इस्तेमाल किया जाता है.

Pressure Switches

स्विच का इस्तेमाल किसी भी उपकरण में उसके प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए किया जाता है जैसे कि हवा भरने का टैंक में एक लिमिट तक हवा भरी जाती है तो उस लिमिट को हम इस स्विच की मदद से Set कर सकते हैं.

ज्यातर इस्तेमाल industrial उपकरण में किया जाता है जैसे की hydraulic systems और pneumatic उपकरण में .

Temperature Switches

यह स्विच तापमान को कंट्रोल करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है .अगर हमें कहीं का तापमान ज्यादा रखना है या कहीं का तापमान कम रखना है तो वहां पर इस स्विच का इस्तेमाल किया जाता है इस स्विच में bimetallic strip (द्विधातु पट्टी) होती है जोकि thermal expansion (तापीय प्रसार) सिद्धांत पर काम करती है.

Rotary Switches

यह Switch एक लाइन को दूसरी कई लाइनों के साथ जोड़ने के लिए इस्तेमाल किया जाता है मान लीजिए कि एक रूम में 6 लाइट है और उनमें से एक समय में सिर्फ एक Light ON करना चाहते हैं तो आप इस स्विच को इस्तेमाल करके सभी लाइट के कनेक्शन इस एक स्विच पर कर सकते हैं और एक स्विच की मदद से अलग अलग समय पर सभी लाइट को ऑन कर सकते हैं. यह Switch एक simple Pole Throw  स्विच की तरह काम करता है .

Electronic Switches

ऐसी स्विच जिन्हें Physically दबाने या हिलाने की जरूरत नहीं पड़ती उनका सारा काम Semiconductor द्वारा हो जाये उन्हें  Electronic switches  कहते है . इन स्विच का इस्तेमाल मोटर ड्राइव और HVAC उपकरण में इस्तेमाल किया जाता है .

मार्केट में हमें अलग अलग रेटिंग और अलग अलग साइज के इलेक्ट्रिक स्विच देखने को मिलते हैं कुछ solid state switches   होते हैं जैसे कि Transistors, SCRs, MOSFETs, TRIACs और IGBTs.

Bipolar Transistors

ट्रांजिस्टर एक सामान्य स्विच की तरह काम करता है यह या तो करंट को पास करता है या करंट को पास नहीं करता जैसे की एक सामान्य स्विच काम करता है .जब BASE टर्मिनल पर पर्याप्त मात्रा में करंट दिया जाता है तो ये ट्रांजिस्टर एक्टिवेट हो जाता है .

Power Diode

Power Diode को बनाने के लिए सिलिकॉन और जर्मेनियम जैसे सेमीकंडक्टर का उपयोग किया जाता है .ज्यादातर Power Diode  सिलिकॉन का उपयोग करके बनाये जाते है .ताकि ये उच्च currents और उच्च जंक्शन तापमान पर काम कर सके. इसके दो टर्मिनल होते है जिन्हें  anode और cathode कहा जाता है .

इनके अलवा कुछ Transistors भी Electronic Switches का काम करते है .

  1. MOSFET
  2. IGBT
  3. SCR
  4. TRIAC
  5. DIAC
  6. Gate Turn-Off Thyristor

इस पोस्ट में आपको बताया switch in hindi  , स्विच बोर्ड , network switch , types of switches अगर इसके अलवा कोई और सवाल या सुझाव होतो नीचे कमेंट करके पूछे .

16 thoughts on “Switch क्या है और ये कितने प्रकार के होते है”

Leave a Comment